कहीं दिन उगा – Life Shayari

कहीं दिन उगा - Life Shayari Chalte Chalte

कहीं दिन उगा तो कहीं रात हो गयी
कभी कुछ न बोले, कभी बात हो गयी
कहीं दूर तलक न साये दिखे
कहीं दूर सफर तक साथ हो गयी
कभी डरती डरती चली थी सफर में
अब चलते चलते बेबाक हो गयी

इस पोस्ट को स्टार रेटींग दे
[Total: 0 Average: 0]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *