खबरों की मंडी

खबरों की मंडी
ज़मीर घोल स्याही में, सियासत की वाह-वाही लिख रहे हैं !! खबरों की मंडी में खबर कम, पत्रकार ज़्यादा बिक रहे हैं !!
इस पोस्ट को स्टार रेटींग दे
[Total: 0 Average: 0]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *