हिन्दी दिवस – Hindi Diwas Messages

Hindi Diwas Messages SMS Quotes in Hindi

हमारे देश में हिन्दी दिवस – Hindi Diwas हर साल 14 सितम्बर को ही मनाया जाता है, हिंदी भाषा का दुनियाँ प्रचार-प्रसार करने के लिए इस दिन को मनाते है। 14 सितम्बर 1949 को ही हिंदी को देवनागरी लिपि में भारत की कार्यकारी और राष्ट्रभाषा का दर्जा अधिकारिक रूप से दिया गया था और तभी से देश में 14 सितम्बर का दिन हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी विशेष दिन पर हमारी और से आपके लिए हिंदी भाषा मे लिखे कुछ संदेश, शायरी और नारे:

हिन्दी दिवस – Hindi Diwas Messages, SMS , QUOES in Hindi

जब भारत करेगा हिन्दी का सम्मान
तभी तो आगे बढ़ेगा हिन्दुस्तान.

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं

Continue reading “हिन्दी दिवस – Hindi Diwas Messages”

माँ तो माँ होती है

माँ तो माँ होती है - माँ पर शायरी पहली बार किसी गज़ल को पढ़कर आंसू आ गए । 
शख्सियत ए “लख्ते-जिगर” कहला न सका । जन्नत के धनी “पैर” कभी सहला न सका । दुध पिलाया उसने छाती से निचोड़कर, मैं “निकम्मा, कभी 1 ग्लास पानी पिला न सका। बुढापे का “सहारा हूँ “अहसास” दिला न सका पेट पर सुलाने वाली को “मखमल, पर सुला न सका । वो “भूखी, सो गई “बहू, के “डर से , एकबार मांगकर मैं “सुकुन के “दो, निवाले उसे खिला न सका । नजरें उन “बुढी, “;आंखों से कभी मिला न सका । वो “दर्द, सहती रही में खटिया पर तिलमिला न सका । जो हर “जीवनभर” “ममता, के रंग पहनाती रही मुझे उसे, ईद/होली पर दो जोड़ी, कपडे सिला न सका । बिमार बिस्तर से उसे “आराम दिला न सका । “खर्च के डर से उसे बड़े अस्पताल, ले जा न सका । “माँ” ने बेटा कहकर “दम,तौडने के बाद से अब तक सोच रहा हूँ, “दवाई, इतनी भी ” महंगी, न थी के मैं ला ना सका ।
माँ तो माँ होती है भाईयों माँ अगर कभी गुस्से मे गाली भी दे तो उसे उसकी “दुआ” समझकर भूला देना चाहिए

माता पिता की दुआ

MOTHER FATHER LOVE - DUA SHAYARI
जब माँ छोड़कर जाती है तब दुनिया में कोई दुआ देने वाला नहीं होता.. और जब पिता छोड़कर जाता है तब कोई हौसला देने वाला नहीं होता..

मैं औरत हूँ

मैं औरत हूँ

“मैं औरत हूँ” इसलिए कभी नहीं थकती
मैं सबके जागने से पहले जागती हूँ
मैं सबके सोने के बाद सोती हूँ
क्योंकि मैं एक “औरत” हूँ
इसलिए कभी नहीं थकती
सुबह गृहस्थी में सिमट जाती है
दोपहर फाइलों के बण्डल में

Continue reading “मैं औरत हूँ”

महिला दिवस की शुभ कामनायें…

Womens Day Shayari in Hindi | Mahila Diwas Shayari | महिला दिवस की शुभ कामनायें!

Womens Day Shayari in Hindi | Mahila Diwas Shayari | महिला दिवस की शुभ कामनायें!

दुनिया की पहचान है औरत;
दुनिया पर एहसान है औरत;
हर घर की जान है औरत;
बेटी, माँ, बहन, भाभी बनकर,
घर-घर की शान है औरत;
ना समझो इसको तुम कमज़ोर कभी,
ये है रिश्तों की डोर;
मर्यादा और सम्मान है औरत।
***महिला दिवस की शुभ कामनायें!
****HAPPY WOMAN’S DAY

नारी प्रीत में राधा बने,गृहस्थी में बने जानकी,
काली बनके शीश काटे, जब बात हो सम्मान की।
***महिला दिवस की शुभ कामनायें!
****HAPPY WOMAN’S DAY


नारी “कोमल” है
नारी “कठोर” भी है
अब “महिला शक्ति” का
“दम” ही नही “दंभ” भी देखो
ये जो “पुरुष” जिदंगी “उधार” की
जी रहे है “मुखिया” के नाम पर
संभाल लिया परिवार “निस्वार्थ”
नारी का ये “अहसास” भी देख लो
***महिला दिवस की शुभ कामनायें!
****HAPPY WOMAN’S DAY

मेरे शेर जैसे दोस्तों को जन्म देने वाली माँ को
और
और उन्हीं शेरो को बिल्ली बनाने वाली भाभीयों को
***महिला दिवस की शुभ कामनायें!
****HAPPY WOMAN’S DAY

दरों दीवार से उसकी खुशबू आती है।
घर तो घर है घर को जन्नत  बनाती है।।
हर दर्द छुपाकर मुस्कुराती है।
हर रिश्ता शिद्दतो से निभाती है’।।
***महिला दिवस की शुभ कामनायें!
****HAPPY WOMAN’S DAY

नारी तुम प्रेम हो, आस्था हो, विश्वास हो,
टूटी हुई उम्मीदों की एकमात्र आस हो,
हर जन का तुम्हीं तो आधार हो,
नफ़रत की दुनिया में मात्र तुम्हीं प्यार हो,
उठो अपने अस्तित्त्व को संभालो,
केवल एक दिन ही नहीं,
हर दिन नारी दिवस बना लो…
***महिला दिवस की शुभ कामनायें!
****HAPPY WOMAN’S DAY