तराशा है – Shayari on Beauty

तराशा है - Shayari on Beauty - सुंदरता पर शायरी

तराशा है उनको बड़ी फुर्सत से,
जुल्फे जो उनकी बादल की याद दिला दे,
नज़र भर देख ले जो वोह किसी को,
नेकदिल इंसान की भी नियत हिला दे…

लहजे याद रखता हूँ

लहजे याद रखता हूँ - Mulakat Ke Lehje Shayari

मैं लोगों से मुलाक़ातों के लम्हे याद रखता हूँ,
मैं बातें भूल भी जाऊं तो लहजे याद रखता हूँ,
ज़रा सा हट के चलता हूँ ज़माने की रवायत से,
जो सहारा देते हैं वो कंधे हमेशा याद रखता हूँ |

उदास आपको देखने से

उदास आपको देखने से पहले ये आँखे न रहें,
खफा हो आप हमसे तो ये हमारी साँसें न रहें,
अगर भूले से भी ग़म दिए हमने आपको,
आपकी जिंदगी में हम क्या हमारी यादें भी न रहें।

चले आओ

चले आओ - याद शायरी

चले आओ मेरी कलम की स्याही बनकर,


तुम्हें अपनी जिन्दगी के हर पन्ने में उतार दूं….
✍️ 😀

आह को चाहिए

Love hindi shayari ishq shayari
आह को चाहिये एक उम्र असर होने तक ! कौन जीता है तेरे जुल्फ के असर होने तक !! हमने माना की तगफ्फुल ना करोगे लेकिन ! खाक हो जायेंगे हम तुमको खबर होने तक !!

जुदाई/बिछड़ने पर शायरी हिन्दी में

बिछड़ने की शायरी हिंदी में / जुदाई शायरी का संग्रह हिन्दी में पढें




बिछडनें और जुदाई शब्द पर शायरी पढें






ये किस मोड़ पर तुम्हे बिछड़ने की सूझी,
मुद्दतों के बाद तो संवरने लगे थे हम…




हालात का तक़ाज़ा था , एक बार मिल के हम
बिछड़े कुछ इस अदा से , के दोबारा मिल न सकें





उनकी नज़रों से दूर हो जायेंगे हम ,
कहीं दूर फ़िज़ाओं में खो जायेंगे हम ,
मेरी यादों से लिपट के रोयेंगे वो ,
ज़मीन ओढ के जब सो जायेंगे हम..






तुझे चाहा तो बहुत इजहार न कर सके,
कट गई उम्र किसी से प्यार न कर सके,
तूने माँगा भी तो अपनी जुदाई माँगी,
और हम थे कि तुझे इंकार न कर सके।






न गिला है कोई हालात से ,
न शिकायत किसी की ज़ात से ,
खुद ही सारे वर्क जुदा हो रहे है ,
मेरी ज़िन्दगी की किताब से …