वाह रे जमाने – Shayari for Mother Father

वाह रे जमाने - Shayari for Mother Father

वाह रे जमाने तेरी हद हो गई,
बीवी के आगे माँ रद्द हो गई !
बड़ी मेहनत से जिसने पाला,
आज वो मोहताज हो गई !
और कल की छोकरी,
तेरी सरताज हो गई !
Continue reading “वाह रे जमाने – Shayari for Mother Father”

नवरात्रि शायरी – Happy Navratri Wishes

नवरात्रि शायरी - Happy Navratri Wishes

नवरात्रि की शुभकामनाएँ – Happy Navrati, Navratri Wishes – माँ की कृपा आप पर और आपके परिवार बर बनी रहे

कुमकुम भरे कदमों से आए
माँ दुर्गा आपके द्वार,
सुख संपत्ति मिले आपको अपार,
मेरी ओर से नवरात्रि की
शुभ कामनाएँ करें स्वीकार!

Continue reading “नवरात्रि शायरी – Happy Navratri Wishes”

माँ तो माँ होती है

माँ तो माँ होती है - माँ पर शायरी पहली बार किसी गज़ल को पढ़कर आंसू आ गए । 
शख्सियत ए “लख्ते-जिगर” कहला न सका । जन्नत के धनी “पैर” कभी सहला न सका । दुध पिलाया उसने छाती से निचोड़कर, मैं “निकम्मा, कभी 1 ग्लास पानी पिला न सका। बुढापे का “सहारा हूँ “अहसास” दिला न सका पेट पर सुलाने वाली को “मखमल, पर सुला न सका । वो “भूखी, सो गई “बहू, के “डर से , एकबार मांगकर मैं “सुकुन के “दो, निवाले उसे खिला न सका । नजरें उन “बुढी, “;आंखों से कभी मिला न सका । वो “दर्द, सहती रही में खटिया पर तिलमिला न सका । जो हर “जीवनभर” “ममता, के रंग पहनाती रही मुझे उसे, ईद/होली पर दो जोड़ी, कपडे सिला न सका । बिमार बिस्तर से उसे “आराम दिला न सका । “खर्च के डर से उसे बड़े अस्पताल, ले जा न सका । “माँ” ने बेटा कहकर “दम,तौडने के बाद से अब तक सोच रहा हूँ, “दवाई, इतनी भी ” महंगी, न थी के मैं ला ना सका ।
माँ तो माँ होती है भाईयों माँ अगर कभी गुस्से मे गाली भी दे तो उसे उसकी “दुआ” समझकर भूला देना चाहिए

माता पिता की दुआ

MOTHER FATHER LOVE - DUA SHAYARI
जब माँ छोड़कर जाती है तब दुनिया में कोई दुआ देने वाला नहीं होता.. और जब पिता छोड़कर जाता है तब कोई हौसला देने वाला नहीं होता..