मैं जब भी

Dil Shayari, Lafaz Shayari, Yaad Shayari

मैं जब भी चाहूँ तुमको पुकार लेता हूँ।
अपने लफ़्ज़ों में तुमको उतार लेता हूँ।
मैं जानता हूँ तुम कभी न आओगे मगर-
तेरी यादों को दिल में सँवार लेता हूँ।

इस अजनबी दुनिया में

Ajnabee Duniya Shayari

इस अजनबी दुनिया में अकेली ख्वाब हूँ मैं,
सवालो से खफा छोटी सी जवाब हूँ मैं,
आँख से देखोगे तो खुश पाओगे,
दिल से पूछोगे तो दर्द की सैलाब हूँ मैं..|

दर्द का एहसास

Dard Hindi Shayari, Ehsaas Shayari

दर्द का एहसास जानना है तो प्यार करके देखो,
अपनी आँखों में किसी को उतार कर देखो,
चोट उनको लगेगी आँसू तुम्हें आ जायेंगे,
ये एहसास जानना हो तो दिल हार कर देखो..|

उदास हूँ पर

tere siwa , tere bin udaas hindi shayari

उदास हूँ पर तुझसे नाराज़ नहीं,
तेरे दिल में हूँ पर तेरे पास नहीं,
झूठ कहूँ तो सब कुछ है मेरे पास
और सच कहूँ तो तेरे सिवा..
कुछ नहीं है खास…..

आखों को आखों से

ankho shayari, tanha shayari

आखों को आखों से बताई जाती है…
दुनिया से जो बात छुपाई जाती है…
चाँद से पुछो या पूछो मेरे दिल से …
तन्हा कैसे रात बिताई जाती है….