होती है है जब खफा

होती है जब खफा - प्यार मोहोब्बत शायरी
होती है जब खफा, मुझसे बात भी नहीं करती है, देर रात तक लेकिन मेरा वो इंतजार करती है, निराला सा अंदाज है इश्क में दिलबर का मेरे, पहले खुब डाँट लेती है फिर दिल से प्यार करती है

दिल की हसरत

Teri Surat Par Hindi Shayari
दिल की हसरत मेरी जुबान पे आने लगी, 
तूने देखा और ये ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी, 
ये इश्क़ की इन्तहा थी या दीवानगी मेरी, 
हर सूरत में सूरत तेरी नजर आने लगी।